अर्थव्यवस्थादेशराष्ट्रीयवित्तव्यापार

मार्च के बीच की 3 महीनों में भारतीय खरीदारों ने…

तीन महीने में भारतीयों ने जमकर की सोने की खरीदारी

पुराने समय से ही सोना को भारतीयों की कमजोरी माना जाता रहा है। कोरोना के संक्रमण काल में जब हर जगह कारोबारी और आर्थिक गतिविधियों पर प्रतिकूल असर पड़ा है, तब भारत में सोने की मांग और खरीदारी में तेज उछाल आया है।
इस साल जनवरी से लेकर मार्च के बीच की 3 महीनों में भारतीय खरीदारों ने 140 टन सोने की खरीद की है। सोने की ये खरीद पिछले साल की इसी अवधि में की गई खरीद की तुलना में 37 फीसदी अधिक है। 2020 के पहले 3 महीनों यानी जनवरी से मार्च के बीच कुल 102 टन सोने की खरीद की गई थी।
Sone ki kimat | Today's Gold Price | 22k or 24k | Gold Investment | Todays Gold Rate in India - YouTube
वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल (डब्लूजीसी) की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना संक्रमण के दौरान सरकार से मिली राहत, कस्टम ड्यूटी में छूट के ऐलान और सोने के दाम में नरमी पड़ने के कारण सोने की खरीद में ये तेजी आई है। सोने का ये खरीद मूल्य पिछले साल की इसी अवधि के दौरान हुए खरीद मूल्य से 57 फीसदी अधिक है। रिपोर्ट में ये भी बताया गया है कि जनवरी से मार्च 2021 की तिमाही में सोने की निवेश मांग में 71 फीसदी की गिरावट आई है।
हालांकि कोरोना संकट के बढ़ने के कारण निवेश मांग में बढ़ोतरी होने की लगातार संभावना जताई जा रही है। इसके बावजूद साल के पहले तीन महीनों के दौरान इन्वेस्टमेंट इंस्ट्रूमेंट के तौर पर कुल 161.6 टन सोने की खरीद की गई। जबकि जनवरी से मार्च 2020 के दौरान इन्वेस्टमेंट इंस्ट्रूमेंट के तौर पर 549.6 सोने की खरीद की गई थी।
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button