अंतरराष्ट्रीयउत्तर प्रदेशदेशराजनीतिराष्ट्रीय

यहां सपा की ‘किसान यात्रा’ को लेकर पुलिस का सख्त पहरा, कार्यकर्ताओं की झड़प

किसानों कानूनों के विरूद्ध किसानों के आन्दोलन को लेकर राजनीति जारी है। एक ओर मोदी सरकार किसान संगठनों से बातचीत के जरिए मामले का हल सुलझाने की बात कह रही है, दूसरी ओर विपक्षी दल सरकार को इस मुद्दे पर घेरने में जुटे हैं।

सपा (SP) ​के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को ट्वीट किया कि कदम-कदम बढ़ाए जा, दंभ का सर झुकाए जा, ये जंग है जमीन की, अपनी जान भी लगाए जा। उन्होंने ‘किसान-यात्रा’ में शामिल होने की अपील भी की।

वहीं सपा चीफ अखिलेश द्वारा हर जिले में किसानों के समर्थन में यात्रा आयोजित करने के आह्वान के बाद राजधानी में सोमवार को सपा प्रदेश मुख्यालय से लेकर सपा चीफ के घर तक पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया। विक्रमादित्य मार्ग पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। इसे लेकर पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने हंगामा भी किया और उनकी पुलिस से झड़प हुई। सपा चीफ के घर के सारे रास्ते सील कर दिए गए हैं।

सपा नेताओं ने कहा कि भाजपा सरकार में किसानों से अन्याय एवं किसान विरोधी कानूनों के विरूद्ध सपा की ‘किसान यात्रा’ से डरी सत्ता इसे रोकने के लिए समाजवादियों का दमन कर रही है। गैरकानूनी तरीके से पुलिस थानों में उन्हें बुला कर, घरों पर जा कर रोक रही है। ये घोर निंदनीय है। किसान, नौजवान दंभी सत्ता को जवाब देंगे। समाजवादियों को अरेस्ट कर उन्हें किसानों का साथ देने से दंभी सरकार रोक नहीं पाएगी।

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button